राष्ट्रीय खेलों की मचेगी धूम, ओलम्पिक विजेता सहित कई नामचीन खिलाड़ी होंगे शामिल

देश में खेलों को लेकर बढ़ते रुझान को और गति देने के लिए राष्ट्रीय खेलों का शुभारम्भ होने जा रहा है। पीएम मोदी द्वारा एक भव्य समारोह में गेम्स के शुरू करने की घोषणा के एक दिन बाद नौ और स्पर्धाओं के साथ प्रतियोगिताएं शुरू होगी। ओलम्पिक खेलों में भारोत्तोलन स्पर्धा की रजत पदक विजेता मीराबाई चानू गांधीनगर के महात्मा मंदिर परिसर में सबसे बड़ा आकर्षण का केंद्र होंगी, जब शुक्रवार को 36वें राष्ट्रीय खेलों की धूम मचेगी। 36वें राष्ट्रीय खेलों में 7 हजार से अधिक एथलीट शामिल होंगे।

अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों का दिखेगा जलवा

हाल ही में बर्मिंघम में राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने वाले प्रणति नायक (पश्चिम बंगाल) और प्रतिस्थ सामंत (त्रिपुरा) के साथ-साथ सत्यजीत मंडल (पश्चिम बंगाल) और सैफ तंबोली (सर्विसेज) उन जिम्नास्टों में शामिल हैं, जो थ्राल में समा इंडोर स्पोर्ट्स में शक्ति और नजाकतता से भरे अपने हैरतअंगेज प्रदर्शन से प्रशंसकों का मनोरंजन करेंगे। आईआईटी गांधीनगर में पुरुषों और महिलाओं के लिए 20 किमी की पैदल चाल स्पर्धा में क्रमशः राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेता संदीप कुमार और प्रियंका गोस्वामी की प्रविष्टियां चर्चा की विषय बनी हुई है। कॉमनवेल्थ गेम्स में ट्रिपल जंपर्स एल्धोस पॉल और अब्दुल्ला अबूबकर की सफलता के मद्देनजर जंपिंग पिट पर भी काफी ध्यान लगा रहेगा।

अहमदाबाद सैन्य और राइफल प्रशिक्षण केंद्र में घरेलू पसंदीदा ओलम्पियन इलावेनिल वालारिवन और पश्चिम बंगाल की मेहुली घोष महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में सबका ध्यान आकर्षित करेंगी। जिस दिन निशानेबाजी में तीन स्वर्ण पदक तय होंगे, उस दिन 2012 के ओलंपिक खेलों के रजत पदक विजेता विजय कुमार की वापसी भी काफी दिलचस्पी से देखा जाएगा।

विश्व चैम्पियनशिप के पहले जोरदार तैयारी

विश्व चैम्पियनशिप के लिए चीन जाने से पहले देश के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों प्रतिस्पर्धा करने का अवसर मिले, इसलिए उनकी सुविधानुसार टेबल टेनिस स्पर्धाएं पिछले सप्ताह सूरत में आयोजित की गई थीं। अहमदाबाद में कबड्डी, रग्बी 7एस और टेनिस के साथ-साथ भावनगर में नेटबॉल में प्रतिस्पर्धा के शुरुआती चरण कुछ दिन पहले शुरू हुआ था। धोलेरा में लॉन बाउल्स और यहां 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल इवेंट में पहले ही कुछ एक्शन देखा जा चुका है।

कई स्पर्धाओं के लिए पदक की दावेदारी

शुक्रवार का दिन भारोत्तोलन के अलावा, तीरंदाजी, एथलेटिक्स, तलवारबाजी, जिमनास्टिक, खो-खो, रोलर स्पोर्ट्स, रोइंग और कुश्ती में एथलीटों को भारतीय खेलों में सबसे भव्य मंच पर अपने कौशल का प्रदर्शन करने का अवसर प्रदान करेगा। अहमदाबाद में रग्बी 7एस और भावनगर में नेटबॉल में स्वर्ण पदक के मैच भी होंगे। आईआईटी से काफी करीब, महात्मा मंदिर परिसर भारोत्तोलन, तलवारबाजी और कुश्ती में पदकों के मुकाबलों के साथ जीवंत होगा, जबकि सुरम्य साबरमती रिवरफ्रंट में भारत के सर्वश्रेष्ठ रोइंग और रोलर स्पोर्ट्स एथलीट नजर आएंगे। वहीं संस्कारधाम स्कूल की वनीय इलाके में तीरंदाजी और खो-खो स्पर्धाएं होंगी।

गृह मंत्री अमित शाह ने किया शुभंकर और गान का अनावरण

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अहमदाबाद के ईकेए एरिना ट्रांसस्टेडिया में आयोजित भव्य समारोह में 36वें राष्ट्रीय खेलों के शुभंकर और गान के शुभारम्भ के साथ-साथ एक विशिष्ट वेबसाइट और मोबाइल एप्लिकेशन का अनावरण भी किया। 36वें राष्ट्रीय खेल, जिसकी थीम ‘खेल से एकता का उत्सव’ (सेलिब्रेटिंग यूनिटी थ्रू स्पोर्ट्स) है, सात साल के अंतराल के बाद आयोजित किए जा रहे हैं, और 29 सितंबर से 12 अक्टूबर तक चलेंगे। इससे पहले 2015 में केरल में खेल आयोजित किए गए थे।

7 हजार से अधिक एथलीट होंगे शामिल

36वें राष्ट्रीय खेलों में 28 राज्यों और आठ केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग 7,000 एथलीटों के 36 स्पर्धाओं में भाग लेने की उम्मीद है, जिनमें सर्वाधिक पारंपरिक ओलंपिक खेल भी शामिल हैं। मल्लखंब और योगासन जैसे स्वदेशी खेल भी पहली बार राष्ट्रीय खेलों में शामिल होंगे। राज्य के कम से कम छह शहर – अहमदाबाद, गांधीनगर, सूरत, वडोदरा, राजकोट और भावनगर – मेजबान की भूमिका में होंगे। नई दिल्ली ट्रैक साइक्लिंग स्पर्धा की मेजबानी करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *