7 से 13 दिसम्बर तक आयोजित होने वाले संभाग स्तरीय अमृता हाट में प्रदेश के विभिन्न जिलों के 161 स्वयं सहायता समूह भागीदारी निभाएंगे। संभागीय आयुक्त डॉ नीरज के पवन ने गुरूवार को अमृता हाट की तैयारी बैठक में यह जानकारी दी।
डॉ पवन ने बताया कि जय नारायण व्यास कॉलोनी के ग्रामीण हाट में आयोजित होने वाले इस मेले का उद्देश्य महिला स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों को बिक्री के लिए एक प्लेटफार्म उपलब्ध करवाना है। इसके लिए सभी सम्बंधित विभाग समन्वय रखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्था कर लें। संभागीय आयुक्त ने कहा कि मेले में आने वाली एसएचजी महिलाओं के लिए स्थानीय भ्रमण, मेडिकल जांच, जागरूकता कार्यशालाएं, गोष्ठी व सांस्कृतिक संध्या जैसी मनोरंजनात्मक गतिविधियां आयोजित की जाए। समूहों के अधिक से अधिक उत्पाद बिक सकें, इसके लिए प्रचार प्रसार की नियमित गतिविधियां आयोजित करने के निर्देश देते हुए संभागीय आयुक्त ने कहा कि बीएसएफ, आर्मी सहित अन्य सरकारी कार्यालयों में भी मेले के आयोजन की सूचना उपलब्ध करवाएं जिससे अधिक से अधिक संख्या में आमजन की भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग प्रतिभागी एसएचजी महिलाओं को किचन गार्डन की प्रक्रिया व्यावहारिक रूप से समझाएं। विशेष तौर पर पत्तेदार सब्जियां और औषधीय पौधों की जानकारी देकर पौधे उपलब्ध करवाएं।
*योग सिखाने के निर्देश*
संभागीय आयुक्त ने प्रतिभागी महिलाओं को योग सिखाने की व्यवस्था करने के लिए आयुर्वेद विभाग को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आने वाली महिलाओं की पहले ही दिन हीमोग्लोबिन, पेप्सीमियर आदि की जांच करें तथा एक मेडिकल टीम 24 घंटे मेला स्थल पर उपलब्ध रहे।
*ग्राहकों को मिलेगा लकी ड्रा कूपन*
मेले के दौरान एक स्टॉल से कम से कम 500 रुपए की खरीददारी करने वाले ग्राहक को लकी ड्रॉ का विजेता बनने का अवसर मिलेगा। संभागीय आयुक्त ने आयोजन स्थल पर साफ-सफाई, विद्युत आपूर्ति, पेयजल, बैठक, स्टॉल आवंटन, भोजन, सुरक्षा आदि से संबंधित कार्यों का विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। महिला अधिकारिता विभाग की उपनिदेशक मेघा रतन ने मेले के दौरान आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। बैठक में अतिरिक्त संभागीय आयुक्त ए एच गौरी, नगर निगम आयुक्त गोपाल राम बिरदा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) पंकज शर्मा, जिला उद्योग केन्द्र महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा सहित सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *